Breaking News

प्रॉपर्टी खरीदना एवं बेचना कितना उचित है कोरोना काल में जानिए प्रॉपर्टी एक्सपर्ट सतवीर शर्मा

प्रॉपर्टी खरीदना एवं बेचना कितना उचित है कोरोना काल में जानिए प्रॉपर्टी एक्सपर्ट सतवीर शर्मा

रियल एस्टेट सेक्टर और महामारी

रियल्टी सेक्टर सुस्त अर्थव्यवस्था, क्रेडिट की कमी और बढ़ते माल से पिछले कुछ समय से जूझ रहा है और हाल के कोरोना वायरस महामारी ने चीजों को और खराब कर दिया है. देशभर में लागू लॉकडाउन ने अधिकतर निर्माण कार्यों को रोक दिया है और ज्यादातर मजदूर चले गए हैं या अपने संबंधित गांवों में वापस जाने की योजना बना रहे हैं. इससे आने वाले समय में श्रम की कमी हो सकती है जिससे सेक्टर की रिकवरी पर बुरा असर होगा.

हालांकि, सरकार के हाल ही में राज्य सरकारों और केंद्र शासित प्रदेशों को यह सलाह दी कि उन सभी रजिस्टर्ड प्रोजेक्ट्स जिनका रजिस्ट्रेशन और कंप्लीशन डेट 25 मई को खत्म हो रही है, उसे बढ़ाने को कहा है. इसमें आवेदन की कोई जरूरत नहीं है जिससे कुछ डेवलपर को कुछ हद तक राहत मिलेगी.

घर खरीदार के लिए महामारी का असर
दूसरी तरफ, अगर आपकी आय पर कोई असर नहीं हुआ है और आप अपनी प्रॉपर्टी का पजेशन ले चुके हैं, तो यह आपके लिए अच्छा समय हो सकता है क्योंकि आपकी होम लोन पर ब्याज दर रिकॉर्ड स्तर तक कम हो सकती है. अगर आपके पास रेपो रेट से लिंक्ड लोन है, तो आप अपनी ईएमआई में तुरंत गिरावट की उम्मीद कर सकते हैं. और जो लोग MCLR बेस्ड लोन वाले हैं, उन्हें थोड़ा ज्यादा इंतजार करना पड़ सकता है.

इसके अलावा केंद्रीय बैंक ने कर्जदाताओं से लोन मोरेटोरियम की अवधि को तीन और महीने बढ़ाने के लिए कहा है जिससे कर्जधारकों को इस अप्रत्याशित समय में अपने फाइनेंस को बेहतर तरीके से मैनेज करने में मदद मिल सकती है. हालांकि, यह भी ध्यान दें कि ईएमआई में मोहलत उसका खत्म हो जाना नहीं है. इसके साथ इन तीन महीनों के दौरान ब्याज दर लगती रहेगी जिससे आपकी ईएमआई बहुत बढ़ सकती है खासकर अगर आपने अभी पुनर्भुगतान शुरू किया है.

हालांकि, अगर आपको पजेशन नहीं मिला है, तो आपको निर्माण में देरी की वजह से कुछ लंबा इंतजार करना पड़ सकता है. अगर आप घर खरीदने की सोच रहे हैं, तो रेडी टू मूव इन प्रॉपर्टी बेहतर है. इसके साथ आपको वर्तमान में बेहतर ऑफर भी मिल सकते हैं.

अगर आप कुछ जोखिम जैसे पूरा होने में देरी या बाजार से जुड़े जोखिम ले सकते हैं, तो आप निर्माणाधीन प्रॉपर्टी में निवेश कर सकते है

तो, आपको क्या करना चाहिए ?
कोविड-19 के संकट ने प्रॉपर्टी की रजिस्ट्रेशन में देरी कर दी है और साथ में अलग-अलग विभागों से क्लियरेंस मिलने में भी.
इस महामारी की स्थिति ने बहुत सो लोगों की आय का नुकसान किया है और बहुत से घर खरीदारों के लिए ईएमआई का भुगतान मुश्किल हो सकता है.

लेकिन इसी समय कोरोना के बाद प्रॉपर्टी कीमतों में गिरावट की उम्मीद है. इन बातों को ध्यान में रखकर घर खरीदारों को फैसला लेना चाहिए.

आखिर में, अगर आपने हाल ही में प्रॉपर्टी खरीदी है या लॉकडाउन के बाद योजना है, तो टर्म इंश्योरेंस पॉलिसी या होम लोन इंश्योरेंस पॉलिसी खरीदने में देर न करें.

यह जानकारी सोशल मीडिया के द्वारा जुटाई गयी है |


सतवीर शर्मा ( डायरेक्टर ) 9810191118 दीप प्रॉपर्टीज
सेक्टर 9

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *