BREAKING NEWS
Search

 

एमवीएन विश्वविद्यालय पलवल से नव-प्रवेशित छात्रों के उन्मुखीकरण के लिए ओरिएंटेशन कार्यक्रम का आयोजन किया गया

पलवल (विनोद वैष्णव ) | एमवीएन विश्वविद्यालय पलवल के स्कूल आफ अलाइड हेल्थ साइंस, स्कूल आफ आर्ट, साइंस एंड हयूमैनिटिज़, स्कूल ऑफ एग्रीकल्चर की ओर से नव-प्रवेशित छात्रों के उन्मुखीकरण के लिए ओरिएंटेशन कार्यक्रम का आयोजन किया गया। कार्यक्रम का शुभारंभ माता सरस्वती वन्दना एवं दीप प्रज्वलित करके किया गया जिसमें विश्वविद्यालय के कुलपति डॉ जे वी देसाई, कुलसचिव डॉ राजीव रतन, मुख्य अतिथि संजय सचदेवा, फिजियोथेरेपी विभाग की विभागाध्यक्ष डॉ दिव्या अग्रवाल, कृषि विभाग के अधिष्ठाता डॉ नंदराम, एम एल टी विभाग के विभागाध्यक्ष महेश सिंह दानु तथा स्कूल आफ आर्ट, साइंस एंड हयूमैनिटिज़ के अधिष्ठाता डॉ पवन शर्मा, एडमिशन डायरेक्टर प्रशांत कुमार, परीक्षा नियंत्रक मुकेश सैनी उपस्थित थे।कार्यक्रम के मुख्य अतिथि व्यापार सलाहकार, ट्रेनर व ब्रांडिंग विशेषज्ञ संजय सचदेवा विद्यार्थियों को समय प्रबंधन, आत्मविश्वास एवं अनुशासन की सीख दी। विश्वविद्यालय के कुलपति डॉ जे वी देसाई ने छात्रों को दैनिक जीवन में अनुशासन का महत्व समझाते हुए विश्वविद्यालय जीवन के सभी आयामों के बारे में जानकारी दी। उन्होंने पर्यावरण की रक्षा के लिए सभी शिक्षकों एवं छात्र- छात्राओं से प्रतिवर्ष कम से कम एक वृक्ष लगाकर उसकी सुरक्षा करने की अपील की।इस अवसर पर विश्वविद्यालय के कुलसचिव डॉ राजीव रतन ने विद्यार्थियों को दैनिक जीवन में संयम एवं गुरु का महत्व बताते हुए कहा कि छात्र गुरु के सानिध्य में रहते हुए अपने जीवन के लक्ष्यों को आसानी से प्राप्त कर सकता है।कृषि अधिष्ठाता डॉ नंद राम ने छात्रों को अच्छी एवं ज्ञानवर्धक पुस्तकों से अध्ययन करने की सलाह दी। परीक्षा नियंत्रक डॉ मुकेश सैनी ने छात्रों को परीक्षा एवं उसके मूल्यांकन के बारे में विस्तार से बताया। प्रवेश निदेशक प्रशांत कुमार ने छात्र-छात्राओं को एमवीएन विश्वविद्यालय में प्रवेश लेने के लिए बधाई दी | इसी क्रम में डॉ पवन शर्मा ने अच्छे विद्यार्थियों के गुणों पर प्रकाश डाला तथा छात्रों को बेटी, पर्यावरण, वन एवं जल के संरक्षण के महत्व के बारे में विस्तार से बताया।इस पावन बेला पर कार्यक्रम की शोभा छात्रों द्वारा विभिन्न सांस्कृतिक कार्यक्रम करके बढ़ाया गया। इस मौके पर डॉ तरुण विरमानी, डॉ अमनदीप सिंह, डॉ स्वेता, डॉ अर्चना, डॉ सतीश, डॉ खुशबू, अन्वेशा, मिताली, डॉ रत्ना सिंह, शाहिद, रितिका आदि शिक्षकगण छात्र-छात्राओं के साथ उपस्थित थे।कार्यक्रम के अंत में डॉ दिव्या अग्रवाल ने पधारे हुए सभी अतिथियों, शिक्षकों एवं छात्र-छात्राओं का कार्यक्रम के सफल आयोजन के लिए आभार जताया। कार्यक्रम का समापन राष्ट्रगान द्वारा किया गया।




Leave a Reply

Your e-mail address will not be published. Required fields are marked *